क्या है कोरोना वायरस (कोविड-19) | What is coronavirus in Hindi

3
177
covid 19 image

प्रस्तावना – इस लेख में मैं आपको एक बहुत महत्वपूर्ण बीमारी के बारे में बताने जा रहा हूं और वह है कोरोना वायरस। जिसे आज हम covid-19 के नाम से जानते हैं । जैसे पहले जमाने में आप लोगों ने सुना होगा कि पूरे देश में हैजा या प्लेग फैल गया है. वह उस जमाने की महामारी थी। वैसे ही कोरोना वायरस आज के समय की महामारी है। coronavirus  in hindi

corona virus का सबसे बड़ा पहला लक्षण चीन के वुहान शहर में 2019 दिसंबर में पाया गया था। यह वायरस बुहान शहर के मीट मार्केट से फैला। पहले यह जानवरों से इंसानों में फैल रहा था। लेकिन मरीजों की बढ़ती संख्या से पता चला है कि यह मनुष्य से मनुष्य में भी फैल रहा है।

इस लेख में corona virus क्या है, इसके लक्षण और इससे बचाव के उपाय दिए गए हैं जिसे ध्यानपूर्वक पढ़ें..

कोरोना वायरस क्या है | Coronavirus in Hindi

corona virus यानी कि नोवल कोरोनावायरस डिजीज covid 19 बहुत शुक्ष्म लेकिन खतरनाक वायरस है। कोरॉना वायरस मानव के बाल की तुलना में 900 गुना छोटा है। कोरोना वायरस की शुरुआत मध्य चीन के वुहान शहर में 2019 दिसंबर में हुई।

कोरोना वायरस बहुत ही शूक्ष्म में वायरस है। इसकी आकृति क्राउन की तरह होती है और उसी से इसका नाम कोरोना पड़ गया। यह एक ऐसा वायरस है जो सांस लेने और छोड़ने की प्रक्रिया से जुड़ा है। यह हमारे गले, श्वास नली व फेफड़ों पर सीधा आक्रमण करता है और उनको डैमेज करने लगता है। यह वायरस इसलिए ज्यादा खतरनाक है क्योंकि यह व्यक्ति से व्यक्ति, सतह व हवा के माध्यम से ही फैलता है।

corona virus image

Covid-19 नाम का यह वायरस 80 से ज्यादा देशों में फैल चुका है। इसके संक्रमण के फल स्वरुप सांस लेने में तकलीफ, बुखार, जुखाम और खांसी की समस्या हो जाती है। कोरोना के बढ़ते खतरे को देखते हुए सभी लोगों को सावधानी बरतने की जरूरत है। ताकि इसे फैलने से रोका जा सके।Coronavirus in Hindi

करोना बीमारी के लक्षण | Symptoms of coronavirus in Hindi?

corona virus के सामान्य लक्षणों में देखा जाए तो सबसे पहले हल्का बुखार आता है। इसके बाद सूखी खांसी होती है और लगभग 1 हफ्ते के बाद सांस लेने में तकलीफ होने लगती है। कोरोना वायरस के और भी लक्षण सामने आने लगे हैं जैसे स्वाद न आना, महक ना मिलना, कमजोरी होना आदि। इसलिए हमने इसको लक्षण के आधार पर 2 कैटेगरी में बांटा है।

सामान्य लक्षण- बुखार, सूखी खांसी, थकान, सर दर्द, गले में खराश, स्वाद या गंध का ना पता चलना, दस्त आना।

गंभीर लक्षण- सांस लेने में तकलीफ, त्वचा पर दाने या चकत्ते उभर आना, ऑक्सीजन लेवल गिरना, ज्यादा कमजोरी होना, शरीर का टूटना।

कोरोना से बचाव के उपाय | Corona virus prevention in Hindi

स्वास्थ्य मंत्रालय ने कोरोना वायरस से बचने के लिए दिशानिर्देश जारी किया है जो इस प्रकार है..

  •  बेवजह घर से बाहर ना निकले। अगर बहुत जरूरी हो तभी घर से बाहर निकले।
  • अगर घर से बाहर निकलना अनिवार्य हो जाता है तो सोशल डिस्टेंसिंग का पालन करें।
  •  घर से बाहर निकले तो मास्क जरूर लगाएं और मास्क का दोबारा प्रयोग ना करें। यदि दोबारा प्रयोग करना है तो उसे अच्छी तरह गर्म पानी से धोएं। डबल लेयर मास्क का ही प्रयोग करें।
  •  आप ऐसी किसी वस्तु या जगह पर स्पर्श ना करें जहां किसी और के हाथों का स्पर्श होना संभव हो।
  •  बाहर से आने पर या किसी वस्तु को छूने के बाद हाथों को 20 सेकंड तक धोए। या 80 पर्सेंट अल्कोहल युक्त हैंड सैनिटाइजर का प्रयोग करें।
  •  पोस्टिक आहार व संतुलित भोजन करें। इसके साथ ही व्यायाम व योगा भी करें।
  •  अगर आपको लगता है कि आप में Covid-19 के लक्षण है तो खुद को घर पर ही क्वारंटाइन करें। और सभी लोगों से 1 से 2 मीटर की दूरी बनाकर रखें। यदि आपको लगता है कि स्थिति ज्यादा खराब है तब डॉक्टर से  संपर्क करें।
  •  खांसी छींकते वक्त नाक को रूमाल या टिशू पेपर से ढककर रखें। इसके बाद उसको प्रयोग में ना लाएं।
  •  अपने अंदर सकारात्मक भावना का विकास करें। अफवाहों पर बिल्कुल ध्यान ना दें क्योंकि हर सर्दी, जुकाम व   खांसी कोरोना नहीं है।
  •  इम्यूनिटी को बढ़ाने के लिए अनुलोम विलोम, कपालभाति व भस्त्रिका प्राणायाम का जरूर अभ्यास करें।
  •  आरोग्य सेतु एप डाउनलोड करें और सरकार द्वारा दिए गए दिशानिर्देशों का पालन करें।

कोरोना से बचने के आयुर्वेदिक उपाय | Ayurvedic remedy to prevent corona virus in Hindi

डॉ प्रताप चौहान बताते हैं कि कैसे आयुर्वेद के द्वारा अपने इम्यूनिटी को बढ़ाकर कोरोना से बचा जा सकता है।

  •  नाक में रोजाना 2 बूंद सरसों, तिल का तेल या नारियल का तेल डाल सकते हैं।
  •  रोग से लड़ने की क्षमता बढ़ाने के लिए गिलोय का कैप्सूल ले या तो गिलोय का काढ़ा पीएं।
  •  तुलसी के चार-पांच पत्ते शहद में मिलाकर चाटे।
  •  एक कप पानी में 2 लॉन्ग, थोड़ा अदरक, 3-4 मुनक्का, थोड़ा गूडा, 2 काली मिर्च, तुलसी के कुछ पत्ते उबाल लें और सेवन करें।
  •  हमेशा गर्म पानी का ही सेवन करें और यदि उसमें नींबू और शहद मिला लें तो और भी अच्छा होगा।
  •  रोज सुबह च्यवनप्राश का सेवन करें क्योंकि यह हमारे फेफड़ों की रोग प्रतिरोधक क्षमता को बढ़ाता है।
  •  रोज योगाभ्यास करें। जिसमें कपालभाति, अनुलोम विलोम, व भस्त्रिका प्राणायाम जरूर करें इससे आपकी रोग प्रतिरोधक क्षमता बढ़ेगी।

करोना हो जाए तब क्या करें-

अगर आपको लगता है कि आपमें करोना कि हल्के लक्षण है तो आप घबराएं नहीं अपने अंदर सकारात्मक भाव रखें।आप खुद को घर पर ही आइसोलेट करें और अपने परिवार से दूरी बनाकर रखें। घर पर आइसोलेट होने का मतलब है कि आपको खुद का ख्याल खुद ही रखना पड़ेगा। इसका ध्यान रखें कि जो वस्तुएं आप इस्तेमाल कर रहे हैं वह कोई और ना करें।

अगर आपको लगता है कि स्थिति ज्यादा खराब है तो तुरंत डॉक्टर से संपर्क करें और हॉस्पिटल में एडमिट हो जाए। क्योंकि हॉस्पिटल में जो उपचार मिलेगा वह घर पर आप नहीं कर पाएंगे। Coronavirus in Hindi

 कोविड-19 हेल्प डेस्क-

covid 19 helps desk image

भारत सरकार ने कोरोना के लक्षण मिलने पर तत्काल स्वास्थ्य केंद्र पर सूचना देने को कहा है। स्वास्थ्य मंत्रालय की तरफ से 24 घंटे चलने वाला कंट्रोल रूम तैयार किया गया है।
फोन नं-011-23978046 के माध्यम से कंट्रोल रूम में संपर्क कर सकते हैं। इसके अलावा ncov2019@gmail.com पर मेल भेजकर भी करोना के लक्षणों या किसी तरह की समस्या के बारे में जानकारी ले सकते हैं। Coronavirus in Hindi

3 COMMENTS

  1. Coronaviruses (CoV) are a large family of viruses that cause illness ranging from the common cold to more severe diseases such as Middle East Respiratory Syndrome (MERS-CoV) and Severe Acute Respiratory Syndrome (SARS-CoV). A novel coronavirus (nCoV) is a new strain that has not been previously identified in humans..

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here