मयूरासन करने का बेहतरीन तरीका | Mayurasana(Peacock Pose) Steps and Benefits in Hindi

0
34
Mayurasana(Peacock pose) image

[ मयूरासन क्या है, करने का तरीका, फायदे ] [ Mayurasana (Peacock Pose) Steps and Benefits in Hindi ] [Peacock pose, Benefits, Precautions ]

इस लेख में हम विस्तार से मयूरासन क्या है, करने का तरीका, फायदे और सावधानियों के बारे में जानेंगे। और हां मयूरासन से संबंधित एक वीडियो भी साझा किया गया है जिसे देखना ना भूलें।

मयूरासन क्या है | What is Mayurasan (Peacock Pose) in Hindi?

मयूरासन संस्कृत भाषा से लिया गया है जो दो शब्दों से मिलकर बना है “मयूर + आसन”। जहां मयूर का अर्थ ‘मोर’ है और आसन का अर्थ ‘बैठने का तरीका’ होता है। इस स्थिति में पूरा शरीर मोर के जैसे ही दिखाई देता है इसलिए इसका नाम मयूरासन है। मयूरासन को पीकॉक पॉज के नाम से भी जाना जाता है।
योग की कई मुद्राओं में मयूरासन सर्वश्रेष्ठ माना जाता है। यह शरीर की लगभग सभी बीमारियों को दूर करता है। पेट संबंधी समस्या से छुटकारा दिलाकर पाचन शक्ति मजबूत करता है। यह एक एडवांस पोज है इसलिए शुरुआत में करने पर कठिनाई होगी। लेकिन रोज अभ्यास करने से आप कुछ ही दिनों में इसे करने में निपुण हो जाएंगे।

और भी पढ़े – पद्मासन(Louts Pose) करने का सही तरीका

मयूरासन करने का तरीका | Mayurasana Karne Ka Tarika

मयूरासन करने की विधि विस्तार पूर्वक दी गई है जिसे ध्यानपूर्वक पढ़ें..

  1. सबसे पहले योगा मैट या चटाई बिछाकर घुटनों के बल बैठ जाएं।
  2. हाथ को जमीन पर रखे हैं जहां आप की अंगुलियों की दिशा आपके पैर की तरफ होगी।
  3. अब अपने घुटने के बीच दोनों हाथों को रखिए।
  4. फिर हाथ की कहानियों को पेट पर इस प्रकार रखें कि नाभि के बाएं और दाएं सेट हो जाए।
  5. इसके बाद अपने दोनों पैरों को पीछे की तरफ फैला लें।
  6. अब अपने शरीर को आगे की तरफ झुकाना है। आपके दोनों हाथों पर ही शरीर का पूरा वजन होगा।
  7. संतुलन बनाकर अपना शरीर बिल्कुल सीधा रखें जिससे शरीर हवा में हो जाए।
  8. आपके सिर से लेकर पैर तक पूरा शरीर समानांतर रहेगा।
  9. अपनी क्षमता अनुसार इस मुद्रा में कुछ देर तक बने रहे।
  10. पुनः प्रारंभिक स्थिति में आने के लिए पैरों को नीचे लाएं।
  11. इस आसन को तीन से चार बार करने की कोशिश करें फिर निपुण हो जाने पर अवधि बढ़ा सकते हैं।

और भी पढ़े – शीर्षासन(Head Stand) करने का बेहतरीन तरीका 

मयूरासन का आसान तरीका | Mayurasana(Peacock Pose) Easy Stesp in Hindi

चुकीं यह एक एडवांस पोज तो सभी इसे शुरुआत में नहीं कर सकते। इसके लिए इसका अभ्यास करते समय आप अपना पैर जमीन पर ही टिका कर रखें, बाकी प्रक्रिया वैसे ही रहेगी। इस प्रकार की प्रक्रिया को हम हंसासन के नाम से भी जानते हैं। निचे वीडियो में कुछ टिप्स दिए गए है, जिन्हे अपनाकर आप मयूरासन कुछ ही दिन में कर पाएंगे।

मयूरासन के फायदे | Mayurasana ke Fayde

मयूरासन के लाभ इस प्रकार है..

  1. मयूरासन के अभ्यास से पेट की समस्या समाप्त होती है, पाचन तंत्र भी मजबूत बनता है।
  2. मधुमेह में लाभकारी है रोज अभ्यास करने पर मधुमेह नहीं होता है।
  3. सभी अंगों में रक्त प्रवाह तेज हो जाता है यानी रक्त परिसंचरण तंत्र प्रणाली सही होती है।
  4. नित्य अभ्यास से गुर्दे, अमाशय, अग्नाशय की कार्य शक्ति में वृद्धि होती है।
  5. आंखों से संबंधित समस्या होने पर मयूर आसन का अभ्यास करना चाहिए।
  6. यह हाथों और भुजाओं को मजबूत बनाता है।
  7. यौन रोग से संबंधित समस्या में लाभकारी है। प्रजनन क्षमता की कमी होने पर यह योग बहुत ही फायदेमंद माना जाता है।
  8. नियमित रूप से इसका अभ्यास करने पर आंतरिक शरीर के साथ-साथ बाहरी शरीर को भी दुरुस्त रखता है।
  9. मानसिक व शारीरिक संतुलन का विकास होता है। पूरे शरीर की मांसपेशियां मजबूत होने लगती हैं।
  10. एकाग्रता और रोग प्रतिरोधक शक्ति बढ़ाने में भी मदद मिलती है।

और भी पढ़े – रोग प्रतिरोधक छमता बढ़ने का बेहतरीन तरीका 

मयूरासन करते समय सावधानियां | Mayurasana Me Kya Savdhani Barte?

  1. उच्च रक्तचाप या हृदय रोग से पीड़ित व्यक्ति को इसका अभ्यास नहीं करना चाहिए।(1)
  2. अल्सर और हर्निया होने पर अभ्यास ना करें।
  3. इसका अभ्यास करते वक्त पेट खाली होना चाहिए।
  4. हाथों और कंधों में किसी प्रकार की समस्या होने पर योग चिकित्सक के परामर्श के बाद ही शुरू करें।
  5. महिलाओं के लिए यह आसन वर्जित है क्योंकि कोहनियों का सीधा दबाव उनके बच्चेदानी पर पड़ता है।

और भी पढ़े – रोग प्रतिरोधक छमता बढ़ाने वाले 4 आहार 

मयूरासन का वीडियो | Mayurasana Video Steps in Hindi

मयूरासन करने के लिए वीडियो का सहारा ले। यहाँ इस वीडियो में मयूरासन करने का आसान तरीका बताया गया है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here